क्रिकेट विश्व कप इतिहास: इस खिलाड़ी ने 12 चौके और दो छक्के लगाकर बनाया था शतक, वेस्टइंडीज को बनाया था चैंपियन

क्रिकेट विश्व कप इतिहास: इस खिलाड़ी ने 12 चौके और दो छक्के लगाकर बनाया था शतक, वेस्टइंडीज को बनाया था चैंपियन

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के 12वें सीजन का आयोजन 30 मई से 14 जुलाई के बीच इंग्लैंड और वेल्स में होगा। 45 दिन तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में कुल 48 मैच खेले जाएंगे, जिनका आयोजन 11 मैदानों पर होगा। इस वर्ल्ड कप में कुल 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं, जो राउंड-रॉबिन लीग वाले फॉर्मेट वाले टूर्नामेंट में एकदूसरे से एक-एक बार भिड़ेंगी और इसके बाद टॉप-4 टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वॉलिफाई करेंगी। वर्ल्ड कप शुरू होने से पहले हम आपको बता रहे हैं विश्व कप का इतिहास।

क्रिकेट इतिहास का पहला वर्ल्ड कप साल 1975 में इंग्लैंड में 14 फरवरी से 29 मार्च के बीच खेला गया था। फाइनल मुकाबले में वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रनों से हराकर खिताब पर कब्जा किया था। कैरेबियाई कप्तान क्लाइव लॉयड ने फाइनल मुकाबले में शानदार पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी। क्लाइव ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल में केवल 85 गेंदों पर 12 चौकों और दो छक्कों की मदद से 102 रन ठोक दिए थे।

उन्होंने यह पारी तब खेली थी, जबकि पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने वाले वेस्टइंडीज का स्कोर तीन विकेट पर 50 रन था। लॉयड ने यह पारी ऑस्ट्रेलिया के उस आक्रमण के सामने बनाई थी, जिसमें डेनिस लिली और जैफ थॉमसन जैसे घातक गेंदबाज और स्विंग गेंदबाज गैरी गिलमर शामिल थे। लॉयड ने रोहन कन्हाई के साथ 149 रन की साझेदारी की, जिससे वेस्टइंडीज ने 60 ओवरों में आठ विकेट पर 291 रन बनाए जो उस समय बहुत बड़ा स्कोर माना जाता था।

292 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम 58.4 ओवर में 274 रन बनाकर ही ऑल आउट हो गई और उसे 17 रनों से हार का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया की ओर से ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल ने 93 गेंदों में 6 चौके की मदद से 62 रनों की पारी खेली, लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए। इसके अलावा एलन टर्नर ने 54 गेंदों में चार चौके की मदद से 40 रनों की पारी खेली थी।