सिद्धू से लेकर राज्यवर्धन सिंह राठौड़, ये खिलाड़ी रख चुके हैं राजनीति में कदम

सिद्धू से लेकर राज्यवर्धन सिंह राठौड़, ये खिलाड़ी रख चुके हैं राजनीति में कदम

खेल और राजनीति का गहरा और पुराना नाता रहा है। राज्यवर्धन सिंह राठौड़, कीर्ति आजाद और नवजोत सिंह सिद्धू जैसे खिलाड़ी तो राजनीति में अनुभवी हो गए हैं, लेकिन आगामी लोकसभा चुनाव के लिए क्रिकेटर गौतम गंभीर जैसा नया नाम भी सामने आ सकता है। पिछली लोकसभा में ओलंपिक रजत पदक विजेता और केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के अलावा पूर्व क्रिकेटर आजाद (भाजपा से कांग्रेस में आए), पूर्व फुटबॉल कप्तान प्रसून बनर्जी (तृणमूल कांग्रेस) और राष्ट्रीय स्तर के निशानेबाज के नारायण सिंह देव (बीजद) सदस्य थे। 

पंद्रहवीं लोकसभा में कीर्ति आजाद और नारायण सिंह देव के अलावा पूर्व क्रिकेट कप्तान अजहरूद्दीन (कांग्रेस) और नवजोत सिंह सिद्धू (भाजपा) भी सदस्य थे। ऐसी अटकलें हैं कि गंभीर इस चुनाव में अपनी राजनीतिक पारी का आगाज कर सकते हैं। 

क्रिकेटर रविंद्र जडेजा की पत्नी रीवा सोलंकी ने भाजपा की सदस्यता ले ली है। वह विवादास्पद कर्णी सेना की महिला शाखा की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं। 

चुनावी खिलाड़ी 

-2004 में एथलीट ज्योर्तिमय सिकदर पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर सीट से चुनाव जीती थी। 

-2014 में अजहरुद्दीन मुरादाबाद से चुनाव लड़े थे लेकिन हार गए थे। 

-2014 में नवजोत सिंह सिद्धू लोकसभा का टिकट नहीं मिलने के बाद राज्यसभा के सदस्य थे लेकिन अब भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आ गए। 

-1984 में पूर्व हॉकी कप्तान असलम शेर खान लोकसभा सदस्य थे और 1991 में भी जीते लेकिन उसके बाद चार चुनाव हार गए। 

-1991 और 1998 में क्रिकेटर चेतन चौहान अमरोहा से चुनाव जीते। 

-2009 में पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ कांग्रेस के टिकट पर उत्तर प्रदेश के फूलपुर से चुनाव लड़े लेकिन हार गए। 

-2014 में फुटबॉलर बाईचुंग भूटिया तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार थे लेकिन हार गए । 

-2004 में कांग्रेस और 2009 में सपा की उम्मीदवार रही पूर्व राष्ट्रीय तैराकी और अभिनेत्री नफीसा अली दोनों बार हारीं। 

-पूर्व हॉकी कप्तान दिलीप टिर्की ओडिशा से राज्यसभा सदस्य थे। 

-छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम भी राज्यसभा सदस्य रहीं।